झमाझम बारिश के साथ इस राज्य में गन्ने की बोई हुई फसल को हुआ नुकसान

850

 

यह न्यूज़ सुनने के लिए इमेज के निचे के बटन को दबाये

अनूपपुर,18 मार्च: मध्य प्रदेश के अनूपपुर समेत कोतमा, जैतहरी और पुष्पराजगढ़ विकासखंड के अधिकांश हिस्सों में दोपहर तेज गरज के साथ मूसलाधार बारिश और 8-10 मिनट तक जोरदार ओलावृष्टि हुई। ओलावृष्टि से गेंहू,चना,मटर औऱ गन्ना की बोई हुई फशल को काफी नुकसान हुआ है। ओलावृष्टि इतनी संघन थी कि पूरी धरती चंद मिनटों में ही सफेद चादरों में तब्दील हो गई। दो दिनों से लगातार बारिश के कारण अब मौसम में ठंडक बन आई और जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है।

कृषि विभाग का मानना है कि आंवला आकार के गिरे ओलावृष्टि में सर्वाधिक चार मुख्य फसलों चना, सरसो, आम और बोए हुए गन्ने को काफी नुकसान हुआ है। इसके अलावा दलहनी फसलों में मटर, मसूर, अरहर जो तैयार होकर कटाई में लगी है इसको भी नुकसान होगा। स्थानीय किसानों का कहना है कि ओले गिरने से खेतों में खडी फसलों और सब्जियों को काफी नुकासन हुआ है। गौरतलब है कि वर्ष 2018-19 के लिए अनूपपुर जिले में रबी फसल 74 हजार 400 हेक्टेयर भूमि में लक्षित की गई है। जिसमें गेहूं 20.50 हजार हेक्टेयर, जौ एवं अन्य अनाज 0.07 हेक्टेयर, चना 18.30 हजार हेक्टेयर, मटर 2.60 हजार हेक्टेयर, मसूर 16.60 हजार हेक्टेयर, अन्य दलहन 0.22 हजार हेक्टेयर, सरसो 7.40 हजार हेक्टेयर सहित गन्ना की 0.01 हजार हेक्टेयर पर बुवाई की गई है।

डाउनलोड करे चीनीमंडी न्यूज ऐप:  http://bit.ly/ChiniMandiApp

SOURCEChiniMandi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here