योगी आदित्यनाथ ने किया मुंडेरवा चीनी मिल का उद्घाटन; कहा गन्ना किसानों के लिए चलायी जा रही है अनेकों योजना

291

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मा. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 5000 टी.सी.डी. पेराई क्षमता (7500 टी.सी.डी. तक विस्तारीकरण योग्य) की अत्याधुनिक नई चीनी मिल मय 27 मेगावाट को-जनरेशन प्लान्ट को लोकार्पण किया। इस अवसर पर उन्होने कहा कि मुण्डेरवा चीनी मिल में इसी पेराई सत्र 2019-20 में पूरी क्षमता पर गन्ना पेराई की जायेगी, जिससे मिल क्षेत्र के लगभग 30000 गन्ना किसानों को अपने गन्ने की आपूर्ति करने में सुविधा होगी।

उन्होने कहा कि पेराई सत्र 2019-20 में चीनी मिल में लगभग 70 लाख कुन्टल गन्ने की पेराई किया जाना सम्भावित है, जिससे लगभग 7.25 लाख कुन्टल चीनी का उत्पादन होगा। इस परियोजना से लगभग 8500 प्रत्यक्ष एवं अप्रत्यक्ष रोजगार सृजित होंगे। इसके अतिरिक्त नव स्थापित को-जन प्लान्ट से विद्युत का निर्यात किया जायेंगा, जिससे लगभग रू 0 32 करोड़ की अतिरिक्त आय होगी।

उन्होने कहा कि वर्तमान सरकार द्वारा गन्ना किसानों की आमदनी बढ़ाने तथा उनको त्वरित गन्ना मूल्य का भुगतान किये जाने के उद्‌देश्य से सरकार द्वारा अनेकों योजनायें चलायी जा रही है। उन्होने कहा कि वर्तमान सरकार द्वारा पिछले दो वर्षो में 76 हजार करोड़ गन्ना मूल्य भुगतान किसानों को किया गया है। इससे किसानों की उम्मीदों को नये पंख लगे है तथा किसानों में निरन्तर खुशहाली आ रही है।

उन्होने कहा कि मुण्डेरवा चीनी मिल को-जन प्लान्ट एंव सल्फर लेस शुगर प्लान्ट की स्थापना हेतु रू 438.87 करोड़ की परियोजना शासन द्वारा स्वीकृत की गयी है, जिसमें प्रथम चरण में शासन की वित्तीय सहायता से रू 366.04 करोड़ की लागत से अत्याधुनिक 5000 टी.सी.डी. (7500 टी.सी.डी. तक विस्तारीकरण योग्य) क्षमता की नई चीनी मिल मय 27 मेगावाट को-जन प्लान्ट की स्थापना की गयी है। मा0 मुख्यमंत्री जी की घोषणा के अनुरूप मुण्डेरवा में रिफाइण्ड-सल्फर लेस शुगर प्लान्ट भी लगाया जायेगा, जिसमें सल्फर रहित अच्छी गुणवत्ता की चीनी का निर्माण होगा।

इस अवसर पर उन्होनेे 01 अरब 16 करोड़ रूपये की लागत वाली 49 परियोजानाओं का शिलान्यास एवं लोकार्पण किया। उन्होनेे कहा कि सकारात्मक सोच के साथ लोग विकास से जुड़े तथा अपना योगदान करें। उन्होने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा स्वच्छता अभियान संचालित किया गया, इससे जुड़कर गोरखपुर एवं बस्ती मण्डल में लोगों ने जेई/एईएस समाप्त करने में काफी योगदान दिया। इसी प्रकार हमें अन्य योजनाओं से जुड़कर कार्य करना होगा।

उन्होने कहा कि आने वाले सर्दी के मौसम में कोई व्यक्ति बाहर फुटपाथ पर नही सोयेगा, सबके लिए रैन बसेरों की व्यवस्था की जायेंगी। अलाव और कम्बल के लिए पर्याप्त धनराशि जिलों को दी गयी है। उन्होने अधिकारियों को निर्देश दिया कि सभी रैन बसेरों को सुव्यवस्थित करें। बेसिक शिक्षा परिषद के स्कूलों में पढने वाले 01 करोड़ 80 लाख बच्चों के लिए स्वेटर की व्यवस्था की गयी है।

उन्होनेे कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा विभिन्न योजनाए संचालित की जा रही है। रामजानकी मार्ग सीतामड़ी से होते हुए जनकपुर तक बनायी जा रही है। अयोध्या में बड़ा एयरपोर्ट बनाया जा रहा है। 15 नये मेडिकल कालेज पिछले दो वर्षो में खोले गये है। अभी 14 मेडिकल कालेज का प्रस्ताव भारत सरकार को भेजा गया है। रायबरेली और गोरखपुर में एम्स की स्थापना की गयी है। बस्ती में इस वर्ष मेडिकल कालेज संचालित कर दिया गया है। सिद्धार्थ नगर में अगले साल मेडिकल कालेज चालू हो जायेंगा। गोरखपुर में खाद कारखाना का निर्माण शीघ्र ही पूरा होगा।

मुख्यमंत्री ने लोगों से अपील किया कि वे धरतीमाता एवं पर्यावरण की सुरक्षा के लिए पराली नही जलायेंगे। साथ ही गन्ना की पत्ती भी नही जलायेंगे, इसका उन्होने लोगों से हाथ उठवाकर संकल्प भी करवाया। उन्होने कहा कि निश्रासित गोवंश के लिए लोगों को आगे आकर व्यवस्था करनी होगी इसके लिए उन्हें सरकार 09 सौ रूपया प्रतिमाह देंगी।

समारोह स्थल पहुॅचने पर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने पूॅजा-अर्चना कर तथा डोगे में गन्ना डालकर चीनी मिल के पेराई सत्र का शुभारम्भ किया। उन्होने मंत्री एवं अधिकारियों के साथ चीनी मिल का निरीक्षण किया। उन्होने चीनी मिल चालू कराने के लिए आन्दोलन में शहीद बद्री चौधरी, धर्मराज चौधरी, तिलकराम चौधरी की मूर्ति पर माल्यार्पण किया।

उद्‌घाटन समारोह को प्रदेश के गन्ना विकास एवं चीनी उद्योग मंत्री सुरेश राणा, सांसद हरीश द्विवेदी तथा विधायक दयाराग चौधरी, चन्द्र प्रकाश शुक्ला ने भी सम्बोधित किया। इस अवसर पर प्रदेश के उद्यान राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार श्रीराम चौहान, सांसद, जगदम्बिका पाल, विधायक अजय सिंह, रवी सोनकर, संजय प्रताप जायसवाल, राकेश सिंह बधेल, दिग्विजय नारायण उर्फ जय चौबे, राधवेन्द्र सिंह, प्रमुख सचिव गन्ना संजय आर. भूसरेड्‌डी, प्रबन्ध निदेशक विमल दूबे, आयुक्त अनिल कुमार सागर, आईजी आशुतोष कुमार, जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन, जनप्रतिनिधिगण, क्षेत्र की जनता उपस्थित रहे। समारोह में आये हुए अतिथियों के प्रति गन्ना राज्य मंत्री सुरेश पासी ने धन्यवाद ज्ञापित किया।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here