देश में 31 दिसंबर तक 115.55 लाख टन चीनी उत्पादन: ISMA

132

नई दिल्ली : इंडियन शुगर मिल्स एसोसिएशन (इस्मा) के अनुसार, 31 दिसंबर 2021 तक देश में 492 चीनी मिलों ने 115.55 लाख टन चीनी का उत्पादन किया, जबकि 31 दिसंबर 2020 तक 481 चीनी मिलों द्वारा 110.74 लाख टन चीनी का उत्पादन किया गया था। यह पिछले सीजन के इसी अवधि के उत्पादन की तुलना में 4.81 लाख टन अधिक है। महाराष्ट्र में, 189 चीनी मिलों ने 45.77 लाख टन चीनी का उत्पादन किया है, जबकि पिछले साल इसी अवधि तक 179 चीनी मिलों ने 39.86 लाख टन चीनी का उत्पादन किया था। यह पिछले साल की इसी तारीख को हुए उत्पादन की तुलना में 5.91 लाख टन अधिक है। उत्तर प्रदेश में, 119 चीनी मिलों ने 30.90 लाख टन का उत्पादन किया है। पिछले 2020-21 सीजन में, 31 दिसंबर, 2020 को 120 चीनी मिलें चालू थीं और उन्होंने 33.66 लाख टन चीनी का उत्पादन किया था। कर्नाटक में 69 चीनी मिलें चालू थीं, जिन्होंने 31 दिसंबर, 2020 में 66 चीनी मिलों द्वारा उत्पादित 24.16 लाख टन की तुलना में 25.65 लाख टन चीनी का उत्पादन किया है।

गुजरात में, 15 चीनी मिलें शुरू हैं और उन्होंने 31 दिसंबर, 2021 तक 3.5 लाख टन चीनी का उत्पादन किया है। 31 दिसंबर, 2020 को इतनी ही चीनी मिलें चालू थीं, जिन्होंने 3.35 लाख टन चीनी का उत्पादन किया था। आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में, 12 चीनी मिलों ने 31 दिसंबर, 2021 तक 1.05 लाख टन चीनी का उत्पादन किया है, जबकि 31 दिसंबर, 2020 तक,12 मिलों द्वारा 94000 टन चीनी उत्पादन किया गया था। पिछले साल 31 दिसंबर को संचालित 19 मिलों की तुलना में तमिलनाडु में इस सीजन में अब तक 15 चीनी मिलें चालू हैं। इन मिलों ने 31 दिसंबर 2021 तक लगभग 92000 टन चीनी का उत्पादन किया है, जबकि पिछले साल इसी तारीख को 73000 टन चीनी का उत्पादन किया गया था।

31 दिसंबर 2021 तक बिहार की मिलों ने 1.94 लाख टन, हरियाणा की 1.74 लाख टन, पंजाब की 1.40 लाख टन, उत्तराखंड की 1.23 लाख टन और मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की मिलों ने 1.40 लाख टन का उत्पादन किया है। इस्मा जनवरी 2022 के दूसरे सप्ताह में उपग्रह छवियों के आधार पर जनवरी, 2022 के अंत तक 2021-22 सीजन के लिए चीनी उत्पादन का दूसरा अग्रिम अनुमान जारी करेगा। मिलों द्वारा दी गई जानकारी और इस्मा द्वारा किए गए अनुमानों के अनुसार, सरकार द्वारा दिए गए 46.50 लाख टन के घरेलू बिक्री कोटे के मुकाबले नवंबर, 2021 तक चालू सीजन में कुल चीनी बिक्री लगभग 47.50 लाख टन थी।सरकार ने 2.5 लाख टन के अतिरिक्त कोटे की बिक्री की समय अवधि को बढ़ाकर 31 अक्टूबर, 2021 तक सितंबर, 2021 के महीने के लिए किया था। पिछले साल इसी अवधि के दौरान चीनी की बिक्री 45.50 लाख टन के बिक्री कोटे के मुकाबले लगभग 45.61 लाख टन थी।

10% एथेनॉल सम्मिश्रण के लिए 459 करोड़ लीटर की आवश्यकता के खिलाफ, OMCs ने 2021-22 में आपूर्ति के लिए लगभग 366 करोड़ लीटर एथेनॉल कोटा आवंटित किया है। इसके अलावा, ओएमसी ने 25 दिसंबर, 2021 को लगभग 94 करोड़ लीटर की आवश्यकता का संकेत देते हुए तीसरा ईओआई जारी किया था, जिसके लिए उन्हें लगभग 30 करोड़ लीटर की पेशकश प्राप्त हुई है। वर्तमान में, ओएमसी बोलियों की जांच कर रही है और उम्मीद है कि कुछ दिनों में आवंटन कर दिया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here