सरकार एथेनॉल उद्योग को 2 लाख करोड़ रुपये तक बढ़ाना चाहती है: मंत्री नितिन गडकरी

110

नई दिल्ली: सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने फिक्की (FICCI) द्वारा आयोजित दूसरे वार्षिक सम्मेलन ‘अल्टरनेटिव फ्यूल्स रोडमैप फॉर इंडिया @75: मूविंग टुवर्ड्स ग्रीनर फ्यूचर’ (Alternative Fuels Roadmap for India@75: Moving towards Greener Future) को संबोधित करते हुए कहा की, अपार संभावनाओं को भांपते हुए और प्रदूषण पर अंकुश लगाने के उद्देश्य से, केंद्र सरकार एथेनॉल अर्थव्यवस्था को 20,000 करोड़ से 2 लाख करोड़ रुपये तक बढ़ाने का लक्ष्य बना रही है। हम सभी वाहन निर्माताओं के लिए फ्लेक्स-फ्यूल इंजन बनाना अनिवार्य करने जा रहे हैं।

अपने संबोधन के दौरान, उन्होंने इस बात पर प्रकाश डाला कि फ्लेक्स-फ्यूल वाहन परिवहन क्षेत्र को कार्बन मुक्त करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा, जिससे यह पर्यावरण, अर्थव्यवस्था और पारिस्थितिकी के लिए टिकाऊ हो जाएगा। मंत्री गडकरी ने ब्राजील, कनाडा और संयुक्त राज्य अमेरिका के उदाहरणों का भी हवाला दिया, जहां अधिकांश ऑटोमोबाइल कंपनियां फ्लेक्स-फ्यूल इंजन बनाती हैं। गडकरी ने कहा ,कि इलेक्ट्रिक रिक्शा, कार, स्कूटर और इलेक्ट्रिक साइकिल जैसे इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए घरेलू बाजार में पर्याप्त मांग देखी गई है। उन्होंने सब्सिडी, जीएसटी छूट, ऋण सुविधाओं, पीएलआई और अन्य योजनाओं के रूप में अनुकूल नीतियां बनाकर इलेक्ट्रिक वाहनों के निर्माण को बढ़ावा देने के लिए आवश्यक पहल करने के लिए केंद्र और राज्य सरकारों की सराहना की।

व्हाट्सप्प पर चीनीमंडी के अपडेट्स प्राप्त करने के लिए, कृपया नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें.
WhatsApp Group Link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here