हैदराबाद: गन्ना विक्रेताओं को कोविड की दूसरी लहर का झटका

97

तरनाका: गर्मियों के आगमन के बावजूद, गन्ना आपूर्तिकर्ता और विक्रेता अभी भी चिंतित हैं, क्योंकि शहर में कोरोनोवायरस के मामले बढ़ने से उनके कारोबार को एक बार फिर सेंध लग सकती है। लोग घर से बाहर निकलने से कतरा रहें है। कई जगह लॉकडाउन की वजह से भी गन्ना विक्रेताओं की परेशानी बढ़ गई है। गन्ना थोक विक्रेताओं और आपूर्तिकर्ताओं को पिछले साल भी लॉकडाउन के चलते नुकसान उठाना पड़ा था और अब जब उनको व्यवसाय की कुछ उम्मीद दिख रही थी, तभी फिर एक बार कोरोना ने एक बार फिर गंभीर स्थिति पैदा की है।

गन्ना आपूर्तिकर्ता कृष्णा यादव ने कहा कि, पिछले साल लगाए गए लॉकडाउन के कारण हमें अपना गन्ना फेंकने के लिए मजबूर किया गया था। इस साल भले ही लॉकडाउन न हो लेकिन हम अभी भी इसी तरह की समस्या का सामना कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि, जैसे ही मौसम आया मैंने 12 टन गन्ने का स्टॉक किया, लेकिन कोरोना के कारण शायद ही कोई ग्राहक है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here