चीनी मिल ने गन्ना किसानों की सहुलियत के लिए उठाये कदम

1593

श्रीगंगानगर, 04 दिसम्बर: राजस्थान देश का ऐसा प्रदेश है जहां सर्दी भी ज़्यादा पड़ती है और गर्मी भी। यहाँ के किसान मौसम की विषम परिस्थितियों में भी मेहनत और लगन के साथ खेती करते हुए अपनी जीवटता दर्शाते रहते हैं। प्रदेश में दिसम्बर की शुरुआत के साथ ही सर्दी ने दस्तक देना शुरु कर दिया है । पंजाब और हरियाणा की सीमा से सटे राजस्थान के सर्वाधिक गन्ना उत्पादक ज़िले श्रीगंगानगर में गन्ना किसानों के लिए सर्दी की आहट आफ़त बनकर आयी है। खेत में गन्ना काटने वाले किसानों को सर्द हवाओं की चपेट परेशान कर रही है तो शाम ढलते ही सड़कों पर कोहरे की वजह से नगण्य दृश्यता दुर्घटना को आमंत्रित कर रही है। खेत से गन्ना पैराई के लिए शाम को चीनी मिल में गन्ना लाद कर ले जाने वाले किसानों के लिए सड़कों पर दुर्घटनाओं की संभावनाएँ बढ़ती जा रही है।

गन्ना पैराई सत्र में सहकारी चीनी मिल में किसानों को लिए दी जा रही सुविधाओं का जायज़ा लेने आए स्थानीय सांसद निहालचंद मेघवाल से चीनी मिल में गन्ना पैराई के लिए आए किसानों ने अपनी पीड़ा व्यक्त करते हुए कहा कि सर्द हवाओं के साथ शाम को कोहरा इतना हो जाता है कि गन्ना लेकर जाते हैं तो दुर्घटना की संभावना बनी रहती है। करणपुर के गन्ना किसान जयवीर ने कहा कि चीनी मिल से ज़िले के हज़ारों किसानों की आजीविका जुड़ी है। गाँवों से चीनी मिल के रास्ते तक सड़के टूटी पड़ी है। गन्ना मिल तक जाने में समय ज़्यादा लगता है और कोहरे की मार से दुर्घटना होने का अंदेशा बना रहता है। चीनी मिल में करणपुर, सादुलशहर, पदमपुर, रायसिंह नगर, सूरतगढ, अनूपगढ, विजयनगर, घडसाणा,और रावला मांड इलाक़ों के किसान यहाँ गन्ना लेकर आते है। अगर इन गाँवों की चीनी मिल से कनेक्ट होने वाली लिंक रोड ठीक हो जाए और मुख्यमार्गों पर लाइट लग जाए तो हम लोगों के लिए अच्छा काम हो जाएगा।
किसानों की समस्याओं को गंभीरता से लेते हुए सांसद निहालचंद मेघावाल ने कहा कि वो अपने सासंद कोटे से हर पंचायत में मुख्य मार्गों पर सोलर लाइट लगाएगें। सांसद ने कहा कि वो राज्य सरकार को भी सड़कों की मरम्मत के लिए पत्र लिखेंगे।

किसानों की समस्या के विषय पर श्रीगंगानगर के जिला कलेक्टर शिव प्रकाश ने मीडिया को बताया कि शासन की तरफ़ से चीनी मिल प्रबंधन को पहले से ही निर्देश दिए गए है कि गन्ना पराई सत्र के दौरान किसानों को किसी तरह की समस्या न हो इसके ख़ास ध्यान रखा जाए।

राजस्थान स्टेट शुगर मिल्स लिमिटेड के ऑपरेशन प्रमुख सुरेश गुप्ता ने कहा कि चीनी मिल में गन्ना पैराई सत्र चल रहा है, किसानों की सहुलियत के लिए मिल के बाहर क्रोसिंग पर हाईफिट फ़्लड लाइटें लगाई जा रही है ताकि गन्ना लेकर आने वाले किसानों को रात्रि में किसी तरह की परेशानी न हो। गुप्ता ने कहा कि चीनी मिल के बाहर रोड पर स्ट्रीट लाइट भी लगी हुई है ताकि किसानों को आने जाने में दिक्कत न हो। किसानों को रात्रि विश्राम के लिए रेस्ट हाउस में ठहरने की सुविधा के साथ खाने पीने की भी व्यवस्था है।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here