इंडोनेशिया में चीनी की कमी; उपभोक्ताओं को चीनी का उपयोग कम करने की अपील

94

जकार्ता : इंडोनेशिया में चीनी की खुदरा किंमते लगभग चार वर्षों के सबसे उच्चतम स्तर पर पहुंच गई है। चीनी की कमी और बढते हुए किमत पर काबू पाने के लिए उपभोक्ताओं को चीनी का उपयोग कम करने की अपील की जा रही है। इंडोनेशियन शुगर एसोसिएशन के वरिष्ठ सलाहकार, यादी युसियारी ने कहा कि, लॉकडाउन के कारण चीनी आपूर्ति प्रभावित हुई है और चीनी आयात करने में चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है।

दक्षिण पूर्व एशियाई राष्ट्र इंडोनेशिया कम स्थानीय आपूर्ति और बढ़ी हुई माँग के बीच चीनी आयात को बढ़ावा देने की कोशिश कर रहा है। हालांकि, यह अन्य देशों की तुलना में थाईलैंड से बहुत अधिक चीनी खरीदता है, लेकिन थाईलैंड में भी इस सीजन में सूखे के कारण चीनी उत्पादन गिर रहा है। अब भारत, इंडोनेशिया को अतिरिक्त चीनी बिक्री के लिए नजर गड़ाए हुए है, लेकिन लॉकडाउन के कारण लॉजिस्टिक समस्याओं का सामना कर रहा है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, यादी ने कहा, हम चीनी आयात पर बहुत निर्भर हैं। इंडोनेशिया की बढ़ती आबादी और बढ़ते मध्यम वर्ग ने चीनी जैसी वस्तुओं की माँग बढ़ा दी है। उन्होंने कहा कि, अगर आयात को कम करना है, तो उपभोक्‍ताओं को चीनी का सेवन कम करना होगा। सरकार ने घरेलू रिफाइनरी को उत्पादन में तेजी लाने के लिए कहा है।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here