शिरोमणि अकाली दल का गन्ने का बकाया समय पर भुगतान करने के लिए कानून का वादा…

71

चंडीगढ़: पंजाब में सभी राजकीय दलों द्वारा विधानसभा चुनाव की तैयारियां शुरू हुई है, और वोट बैंक को ध्यान में रखकर मतदाताओं से चुनावी वादे भी किये जा रहें है। शिरोमणि अकाली दल के प्रमुख सुखबीर सिंह बादल ने कहा है कि, अकाली-बसपा गठबंधन किसान समुदाय के हितों की रक्षा के लिए प्रतिबद्ध है और अगर सत्ता में आती है तो वह एक अधिनियम पारित करेगी जिसमें चीनी मिलों को गन्ना उत्पादकों को समयबद्ध तरीके से उनका बकाया भुगतान करना अनिवार्य होगा। जनसभाओं को संबोधित करते हुए बादल ने कहा कि, उन्हें व्यापक शिकायतें मिली हैं कि चीनी मिलें कभी-कभी एक साल तक किसानों का बकाया भुगतान नहीं कर रही हैं।

उन्होंने कहा, किसानों के साथ ऐसा बर्ताव कभी भी स्वीकार्य नहीं होगा, और नए अधिनियम में गन्ना पेराई के तीन महीने के भीतर किसानों को बकाया भुगतान नहीं करने वाले मिल मालिकों के खिलाफ संज्ञेय अपराध दर्ज करने का प्रावधान होगा। सुखबीर ने सीएम चरणजीत चन्नी से अपील की कि, गन्ना उत्पादकों को राज्य सरकार द्वारा अधिसूचित 360 रुपये प्रति क्विंटल का राज्य सुनिश्चित मूल्य (एसएपी) प्राप्त हो। उन्होंने कहा कि, एसएपी की घोषणा के बावजूद चीनी मिलें इस कीमत पर गन्ने की फसल की बॉन्डिंग नहीं कर रही हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here