संजीवनी चीनी मिल के आगामी पेराई सत्र को लेकर किसानों में असमंजस की स्थिति…

487

पोंडा: संजीवनी सहकारी चीनी मिल के भविष्य को लेकर सरकार के रुख़ से गन्ना किसान काफी निराश है। मिल के भविष्य को लेकर फैसला लेने के लिए गन्ना किसानों ने सरकार को 25 सितंबर की ‘डेडलाइन’ दी है, तबतक सरकार निर्णय लेने में विफल रही तो फिर 29 सितंबर को मिल के सामने धरना-प्रदर्शन करने की धमकी किसानों ने दी है। ग्रोअर्स एसोसिएशन ऑफ गोवा ने मंगलवार को मिल में आयोजित बैठक में यह निर्णय लिया। आगामी पेराई सत्र के दौरान मिल शुरू होगी या नहीं, इस बारे में किसानों में असमंजस की स्थिति बनी हुई है।

पेराई के चलते वार्षिक रखरखाव का काम गणेश चतुर्थी के तुरंत बाद शुरू होता था। हालांकि, इस साल रखरखाव और मरम्मत का कोई काम शुरू नहीं किया गया है। किसान असमंजस में हैं कि, आगामी पेराई सत्र के दौरान मिल शुरू होगी या नहीं। पिछले सीज़न के दौरान, सरकार ने मिल को नहीं चलाया, लेकिन स्थानीय किसानों से गन्ने की खरीद की और इसे कर्नाटक और महाराष्ट्र की दो मिलों में भेज दिया था।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here