खेतों में गन्ना खड़ा रहते चीनी मिल बंद नहीं करने को कहा गया

271

मेरठ: किसानों का आरोप है की नजीबाबाद मिल के क्षेत्र में गन्ना उपलब्ध होने के बावजूद मिल द्वारा कोई फ्री इंडेंट जारी नहीं किया गया है। जिसके चलते उन्हें आशंका है की, मिल खेतों में खड़े गन्ने की पेराई किये बिना ही बंद हो जाएगी। जिससे गन्ना किसानों में हडकंप मच गया है, तो कई किसान आंदोलन छेड़ने की बात कर रहें है।

अमर उजाला डॉट कॉम में प्रकाशित खबर के मुताबिक, भाकियू युवा के प्रदेश अध्यक्ष दिगंबर सिंह ने आरोप लगाया कि, मिल प्रबंधन किसानों के खेतों में खड़ा करना छोड़ कर मिल को बंद करने का प्रयास कर रहा है। किसानों के पास गन्ना है और मंडावली थाना क्षेत्र के रामदास वाली, गांव बड़ी जटपुरा आदि सेंटर को बंद करने का प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने चेतावनी दी कि, खेतों में गन्ना खड़ा रहते मिल बंद की गई तो किसान जिला गन्ना अधिकारी कार्यालय और तहसीलों में गन्ना भर देंगे। उत्तर प्रदेश में 119 मिलों में से लगभग 100 मिलों का पेराई सीजन खत्म हो चूका है, और कई मिले अगले दो-तीन हप्तों में बंद हो सकती है।कोरोना वायरस महामारी ने गन्ना कटाई और पेराई में बाधा डाली है, जिसके चलते अब भी कई किसानों का गन्ना खेतों में खड़ा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here