नेपाल: चीनी मिलों द्वारा किसानों का 500 मिलियन से अधिक भुगतान बकाया

163

काठमांडू: भारत की तरह नेपाल में भी गन्ना भुगतान का मुद्दा गरमाया हुआ है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, चीनी मिलों को अभी तक गन्ना किसानों का 500 मिलियन रुपये से अधिक का बकाया चुकाना बाकी है। गन्ना किसानों के अनुसार, चीनी मिलें लंबे समय से बंद होने का हवाला देते हुए बकाया राशि देने से इनकार कर रही हैं। गन्ना किसान एक्शन कमेटी के सचिव हरि श्याम राय ने कहा कि, सरकार ने लॉकडाउन हटने के बाद गन्ना उत्पादकों को अपने सभी बकाया राशि का भुगतान करने का आश्वासन दिया है। राय ने कहा, अगर वादा पूरा नहीं किया गया तो हम नए सिरे से सड़क पर उतरने को मजबूर होंगे। इससे पहले पिछले साल जनवरी में, आंदोलनकारी किसानों ने काठमांडू में मैथिगर क्षेत्र में प्रदर्शन किया था।

किसानों का कहना है की, इससे पहले, चीनी मिलों ने अपना स्टॉक बेचने के बाद किसानों को पूरा भुगतान देने का आश्वासन दिया था। चीनी उत्पादक संघ के अनुसार, पिछले सीजन में घरेलू चीनी मिलों ने लगभग 180,000 टन चीनी का उत्पादन किया और उन्होंने अपनी लगभग सभी उपज बेच दी है। देश भर में एक दर्जन चीनी मिलें चल रही हैं। कुछ को छोड़कर, उनमें से ज्यादातर लगभग हर साल किसानों को देय राशि का भुगतान करने में देरी करती हैं।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here