जलवायु परिवर्तन से गन्ने सहित अन्य फसलों को हुआ नुकसान…

200

कोच्चि: मौसम में असामान्य बदलाव ने किसानों को झकझोर के रख दिया है। जनवरी में हुई अभूतपूर्व बारिश ने कई किसानों के खेती का भारी विनाश किया है।बारिश से सबसे ज्यादा प्रभावित किसान पश्चिमी घाट क्षेत्र के थे। तमिलनाडु के सीमावर्ती इडुक्की के गाँव मरयूर में दो महीने से अधिक समय तक असामान्य जलवायु देखी गई, जिसमें सब्जियों और गन्ने सहित बड़े पैमाने पर फसलों को नुकसान हुआ। स्थानीय लोगों ने कहा कि, दिसंबर के अंतिम सप्ताह से, मरयूर ने धुंध का अनुभव किया और यह जनवरी के अंत तक चला। मरयूर में मुख्य फसलें गन्ना, सुपारी और सब्जियां हैं।

क्लेमाटोलॉजिस्ट गोपकुमार चोलयाल स्लीवेट ने कहा की, पिछले साल जनवरी में, राज्य ने बेहद सर्द जलवायु का अनुभव किया था। लेकिन इस साल, राज्य में जनवरी के पहले सप्ताह में भारी से बहुत भारी वर्षा देखी गई। इन पहलुओं से पता चला कि जलवायु परिवर्तन हो रहा है। कंठललोर के एक किसान के वी मनोज ने कहा, मैं चार एकड़ में गन्ना उगाता हूं। अप्रत्याशित जलवायु के कारण मुझे भारी नुकसान हुआ है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here