उत्तर प्रदेश का चीन के वैश्विक सैनिटाइजर बाजार पर कब्जा करने का लक्ष्य

325

लखनऊ: भारत और चीन के बिच चल्र रहे संघर्ष के चलते अब उत्तर प्रदेश सरकार ने चीन के वैश्विक सैनिटाइजर बाजार पर कब्जा करने की तयारी शुरू की है।

टाइम्स ऑफ इंडिया को दिए गए इंटरव्यू आबकारी विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव और चीनी आयुक्त संजय ए भूसरेड्डी ने कहा कि, चीन हमारे से चार गुना अधिक दरों को सैनिटाइज़र बेच रहा है। अमेरिका, यूरोपीय संघ के देशों और अन्य बाजारों में शीर्ष सैनिटाइज़र आपूर्तिकर्ता के रूप में ‘विस्थापित’ करने के लिए उत्तर प्रदेश तैयार है। उन्होंने कहा की, यूपी में उत्पादित सैनिटाइजर ने लगभग सभी राज्यों में आपूर्ति किया है और अब हम वैश्विक बाजार पर कब्जा करने की योजना बना रहे हैं।

भूसरेड्डी ने कहा कि, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के हस्तक्षेप पर केंद्र सरकार ने सैनिटाइजर के निर्यात पर लगी रोक हटा दी है और राज्य सरकार अब सैनिटाइजर उत्पादकों को वैश्विक स्तर पर जाने की सुविधा दे रही है। चीनी मिलें ऐसे समय में सैनिटाइजर का निर्माण कर रही हैं, जब राज्य अप्रैल और मई में कोरोना वायरस से पीड़ित था। भूसरेड्डी ने कहा, एक अनौपचारिक सर्वेक्षण और व्यापार पूछताछ से पता चला कि चीन अमेरिका और यूरोप के अन्य देशों में लगभग आठ से 15 डॉलर में 200 मिलीलीटर की बोतल सैनिटाइजर बेच रहा है। हमारे सैनिटाइजर निर्माताओं द्वारा पश्चिमी देशों से बहुत उत्साहजनक प्रतिक्रिया मिली क्योंकि हमारी दरें चीन की तुलना में काफी कम है, और इसलिए हम जल्द ही वैश्विक बाजार पर कब्जा करने के लिए तैयार हैं, जहां चीन का एकाधिकार है।

उन्होने कहा की हर दिन छह लाख लीटर सैनिटाइज़र का उत्पादन कर रहे हैं, जिसमें से लगभग दो लाख लीटर की खपत राज्य में होती है। हम अब निर्यात के बारे में सोच सकते हैं क्योंकि अन्य राज्यों ने भी इसका निर्माण शुरू कर दिया है।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here