अब तक 25 लाख टन चीनी निर्यात के अनुबंध: ISMA

440

नई दिल्ली : इंडियन शुगर मिल्स एसोसिएशन (ISMA) के अनुसार, 2020-2021 के सीजन के दौरान लगभग 25 लाख टन चीनी निर्यात अनुबंध किये गये है। एसोसिएशन ने बाजार रिपोर्टों का हवाला देते हुए एक बयान में कहा कि, 1 अक्टूबर, 2020 और 31 जनवरी, 2021 के बीच लगभग सात लाख टन चीनी का निर्यात किया गया। इसमें 2019-2020 चीनी सीजन के अधिकतम स्वीकार्य निर्यात कोटा (MAEQ) भी शामिल था, जो दिसंबर के अंत तक बढ़ाया गया था। चालू वर्ष की निर्यात नीति के तहत लगभग चार लाख टन का निर्यात किया गया, और अब तक निर्यात के लिए लगभग 25 लाख टन का अनुबंध किये गये है।

ISMA ने कहा, वर्तमान मौसम के लिए 31 दिसंबर, 2020 को निर्यात कोटा की घोषणा किए हुए केवल 45 दिन बीत चुके हैं। अनुबंधित निर्यात का एक बड़ा हिस्सा इंडोनेशिया के लिए है। एक बार ईरान को निर्यात के लिए वाणिज्य मंत्रालय से स्पष्टीकरण प्राप्त हो जाने के बाद, भारत बहुत अधिक निर्यात अनुबंध कर पायेगा। ईरान को निर्यात को लेकर बहुत जल्द वाणिज्य मंत्रालय स्पष्टीकरण जारी कर सकता है।

15 फरवरी, 2021 तक, देश भर की चीनी मिलों द्वारा 208.89 लाख टन चीनी का उत्पादन किया गया है, जबकि पिछले चीनी सीजन की इसी अवधि में यह 170.01 लाख टन चीनी उत्पादन हुआ था। चीनी मिलों ने 2020-2021 (अक्टूबर 2020 से सितंबर 2021) में जिन 497 चीनी मिलों में पेराई शुरू की थी, उनमें से 33 चीनी मिलों ने गन्ना नहीं मिलने के कारण पेराई कार्य बंद कर दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here