महाराष्ट्र: चीनी मिलों के पास किसानों का 351 करोड़ रुपये एफआरपी बकाया…

225

मुंबई: महाराष्ट्र में पेराई सीजन ने रफ़्तार पकड ली है। इसी के साथ गन्ना भुगतान के प्रक्रिया में भी चीनी मिलें जुट चुकी है।

महाराष्ट्र चीनी आयुक्तालय द्वारा साझा किए गए पेराई आंकड़ों के अनुसार, 15 नवंबर तक 2020-21 के पेराई सत्र का महाराष्ट्र में चीनी मिलों पर किसानों का उचित और पारिश्रमिक मूल्य (FRP / एफआरपी ) बकाया 351.54 करोड़ रुपये है। किसानों की कुल एफआरपी भुगतान सीजन की शुरुआत में 366.24 करोड़ रुपये के बराबर था क्योंकि पहले महीने में केवल 48 मिलों ने ही पेराई शुरू की थी। चीनी आयुक्त ने 15 अक्टूबर से पेराई की अनुमति दी थी।

हालांकि, बेमौसम बारिश ने कई मिलों के पेराई में देरी हुई। इसके अलावा, मिलें आर्थिक तरलता जैसे समस्याओं का सामना कर रही थीं। परिणामस्वरूप, उनमें से कई मिलें किसानों को पूर्ण भुगतान नहीं कर सके।

महाराष्ट्र में चीनी उत्पादन 92.15 लाख टन को छूने की संभावना है। इस सीजन में लगभग 187 मिलें पेराई में हिस्सा लेने की उम्मीद है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here