खेतों में खड़े एक-एक गन्ने की पेराई न होने तक चीनी मिलों को बंद नहीं होने देंगे: राकेश टिकैत

1186

मुजफ्फरनगर: उत्तर प्रदेश में गन्ना सीजन अपने अंतिम चरण में पहुंच गया है, कई सारी मिलों ने पेराई समापन कर दिया है। लेकिन अभी भी कई मिलों के क्षेत्र में गन्ना फसल खेतों में खड़ी है, और इसके कटाई के लिए किसान संघठन भाकियू आगे आई है। दैनिक जागरण में प्रकाशित खबर के मुताबिक, भाकियू के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने कहा कि, खेतों में खड़े एक-एक गन्ने की पेराई न होने तक चीनी मिलों को बंद नहीं होने देंगे।

गन्ना किसानों की शिकायत पर मंसूरपुर चीनी मिल में पहुंचे चौधरी राकेश टिकैत ने चीनी मिल उपाध्यक्ष अरविंद कुमार दीक्षित व केन मैनेजर बलधारी सिंह से वार्ता की। मिल अधिकारियों ने बताया कि, किसानों के बेसिक कोटे से अधिक खेतों में खड़े गन्ने का सर्वे करा लिया है। शीघ्र ही किसानों को पर्चियां जारी कर दी जाएंगी। मिल अधिकारियों ने आगामी 10 जून तक पूरे गन्ने की पेराई हो जाने की संभावना जताई। टिकैत ने कहा की भले ही थोड़ी देरी हो, लेकिन फिर भी किसानों का एक-एक गन्ना पेराई किया जाना चाहिए।

आपको बता दे, उत्तर प्रदेश में चीनी मिलें कोरोना संकट के बाद भी गन्ना पेराई में जुटी है क्यूंकि किसानों को कोई नुकसान ना हो।

पूरी पेराई तक चीनी मिल बंद नहीं होगी यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

1 COMMENT

  1. भैया गन्ना दो सब भेज दिया मिल में बैलेंस तो दे नहीं रहे हैं 3 महीने से कोई बैलेंस ना आया है फैक्ट्री बंद होने वाली है जब बंद हो जाती है तो बैलेंस तो आएगा ही नहीं इस साल तो क्या भूखे मारने का है प्लान किया

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here