आरबीआई ने FY22 GDP अनुमान घटाकर 9.5 प्रतिशत किया

24

मुंबई: भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने शुक्रवार को चालू वित्त वर्ष (2021-2022) में वास्तविक सकल घरेलू उत्पाद (GDP) की वृद्धि दर 9.5 प्रतिशत तक की कटौती की। RBI ने पहले FY22 के लिए 10.5 प्रतिशत GDP वृद्धि का अनुमान लगाया था। आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा कि, अर्थव्यवस्था के पहली तिमाही में 18.5 फीसदी, दूसरी तिमाही में 7.9 फीसदी, तीसरी तिमाही में 7.2 फीसदी और चौथी तिमाही में 6.6 फीसदी की दर से बढ़ने की संभावना है।

RBI ने FY22 के लिए 10.5 प्रतिशत GDP वृद्धि का अनुमान लगाया था। Q1 के लिए, RBI ने 26.2 प्रतिशत, Q2 के लिए 8.3 प्रतिशत, Q3 के लिए 5.4 प्रतिशत और Q4 के लिए 6.2 प्रतिशत की वृद्धि की उम्मीद की थी। आरबीआई ने वित्त वर्ष 2021-2022 के लिए उपभोक्ता मूल्य सूचकांक (सीपीआई) मुद्रास्फीति 5.1 प्रतिशत रहने का अनुमान लगाया है। दास ने कहा, कोविड -19 महामारी की दूसरी लहर के बीच कम प्रतिबंधों के कारण आर्थिक गतिविधियों पर प्रभाव निहित रहने की उम्मीद है।आरबीआई ने रेपो दर (प्रमुख उधार दर) को भी 4 प्रतिशत और रिवर्स रेपो दर (उधार दर) को 3.35 प्रतिशत पर अपरिवर्तित रखा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here